Chahat Quotes

We've searched our database for all the quotes and captions related to Chahat. Here they are! All 8 of them:

Aadat, zaroorat aur chahat mein bas mahobbat ka farq hota hai
Mehnaz Ansari
Yaad ne jatanthi papan bhini kari sachavine moove on thayo chhu. Nava ishq , navi chahat , navi sobat malati rahi chhe.
Jay Vasavada (JSK : Jay Shree Krishna)
Chu jao na tum.. fir ek baar, Jga jao na chahat.. fir ek baar, Krna chahu kurban apni rahat tumpe.. fir ek baar, Krte hain ye pal kimti bnne ki guzarish.. fir ek baar, Reh jao na tum mere paas.. fir ek baar, Chun lo ye chahat ki raah tum.. fir ek baar...
Unknown gustakh
Keh dunga wo baat bhi tumse, Jb aayegi barsaat phir kbhi, Pr darta hu... Subh ki chahat Ho na jaye raat phir kahin, Kho na jaye jayada ki chahat me, Iss rishte ka andaaz hi kahin
Unknown gustakh
Dur se samandar ki gahrai naapne walo Kabhi pani me utar kar to dekhoo.. Mohobat par gyan dene walo Kabhi mohobat kar ke to dekhoo.. Asan nahi hai ese rah par chalna jo apki manzil nahi.. Kabhi bina manzil-e-chahat ke chal kar to dekhoo....
Vandana Pradhan
LOVE SHAYARI |HINDI LOVE SHAYARI|HINDI LOVE SHAYRI WITH IMAGES HAZAR CHAHERON ME HINDI LOVE SHAYARI Hazaar chaheron me ek tum hi dil ko ache lage Warna na chahat ki kami thi na chahane Walon ki PYAR WO NAHI HINDI LOVE SHAYARI Pyaar wo nahi jo duniya ko dikhaya jaye pyar wo hai jo dil se nibhaya jaye KOI GUNAH NAHI LOVE SHAYARI pyar karna koi gunah nahi hota pyar se pyara koi jazbaa nahi hota pyar ka rishta isliye chipana padta hai kyon ke suchaa pyar logo se bardasht nhi hota ...... FOR MORE LIKE THIS PLEASE VISIT HINSMEER.BLOGSPOT
Hinsmeer
प्रेरणा की माँ के समान है इच्छा मेरी पहली किताब ‘सी यू ऐट द टॉप’ में मैंने कहा था, ‘इच्छा एक ऐसा तत्त्व है, जो साधारणपन के गरम पानी को शानदार सफलतावाली भाप में बदल डालती है।
Zig Ziglar (KYA AAP JEETNA CHAHATE HAI)
क्षमतावाला इनसान कठिन परिश्रम, प्रयास और लगन से तमाम बाधाओं को पार करता हुआ अपना लक्ष्य हासिल कर ले और चैंपियन बन जाए। जाहिर है, आधारभूत प्रतिभा होना जरूरी है; लेकिन जो चीज इनसान को आगे बढ़ाती है और उसमें तथा अन्य में अंतर पैदा करती है, वह केवल और केवल इच्छा या भूख है। इच्छा तब पैदा होती है, जब आपके जीवन में कुछ ऐसा घटित होता है, जो अचानक भविष्य के संदर्भ में आपको खुद को देखने का नजरिया बदल देता है। इच्छा भी एक मार्गदर्शक की ही तरह है और आजकल सिक्स शूटर पर उसे ही तरजीह दी जाती है। इच्छा से बढ़त मिल जाती है। इच्छा वह ऊर्जा उत्पन्न करती है, जो आपको बिस्तर से अलग करती है, वह भी तब, जब आप बिस्तर छोड़ना नहीं चाहते। इच्छा आपको वह ताकत प्रदान करती है, जिससे आप मैराथन के आखिरी 100 मीटर दौड़ जाते हैं; जबकि आपके लिए अगला कदम भी असंभव सरीखा जान पड़ता है। इच्छा आपको कठिन चीजें करने की हिम्मत देती है, जो आपका प्रतिद्वंद्वी करने का इच्छुक नहीं होता। इच्छा ही प्रेरणा की जननी होती
Zig Ziglar (KYA AAP JEETNA CHAHATE HAI)